गोविन्द बल्लभ पंत राष्ट्रीय हिमालयी पर्यावरण एवं सतत विकास संस्थान

(पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय, भारत सरकार का स्वायत्तशासी संस्थान)

कोसी-कटारमल, अल्मोड़ा-263643, भारत

 

 

 

शोध प्रबंध/ग्रीष्म प्रशिक्षण/शीत प्रशिक्षण........

  

आवेदन पत्र डाउनलोड करें

 

 

प्रशिक्षण के बारे में

प्रशिक्षण के लिए सभी आवेदन पत्र निर्धारित प्रपत्र में संस्थान/विभाग के अध्यक्ष के माध्यम से निदेशक, गोविन्द बल्लभ पंत राष्ट्रीय हिमालयी पर्यावरण एवं सतत विकास संस्थान, कोसी कटारमल, अल्मोड़ा-263 643, उत्तराखंड, भारत को भेजें। विद्यार्थी जो विश्वविद्यालयों और संस्थानों में अंडरग्रेजुएट और पोस्ट ग्रेजुएट में अध्ययरत हैं, और उनके लिए प्रशिक्षण उनकी उपाधि कार्यक्रम का एक अंग है संस्थान उनके लिए अनुसंधान और विकास के निम्नलिखित विषयों/क्षेत्रों में प्रशिक्षण उपलब्ध कराता हैः

सं

विषय/क्षेत्र

1.

     जैवविविधता और संरक्षण

2.

     भौगोलिक सूचना सेवा

3.

     पर्यावरण प्रभाव आकलन

4.

     भूमि एवं जल प्रबंधन

5.

     सूक्ष्मजैविकी

6.

     जलवायु परिवर्तन

7.

     पादप कायिकी और जैवरसायन

8.

     पादप जैव प्रौद्योगिकी

9.

     पादप आण्विक बायोलॉजी

10.

     पादप, मृदा एवं जल विश्लेशण

11.

     कंप्यूटर अनुप्रयोग एवं आईटी

12.

     ग्लेशियर विज्ञान

 

प्रशिक्षण आमतौर पर अल्कालिक अर्थात 4 से 8 सप्ताह और दीर्घकालिक अर्थात 8 से 24 सप्ताह के लिए आयोजित किया जाता है और इन्हें वर्ष में दो अलग-अलग सत्रों में किया जाता है. पहला जनवरी से जून तक और दूसरा जुलाई से दिसंबर तक होता है. कोसी-कटारमल, अल्मोड़ा स्थित मुख्यालय के अलावा स्थानन श्रीनगर-गढ़वाल, मोहल कुल्लू, टंडांग-सिक्किम और ईटानगर इकाइयों में विशेषज्ञता और प्रशिक्षणार्थियों की प्राथमिकता के आधार पर आयोजित किया जाता है

 

सामान्य सूचना और सेवा शर्तें  

 

  1. बड़ी संख्या में आवेदन पत्र प्राप्त होने पर चयन मेरिट के आधार पर किया जाता है. यदि अभ्यर्थी निर्धारित समय में प्रवेश नहीं लेता है तो सीट प्रतीक्षा सूची में प्रतीक्षित व्यक्ति को दी जाती है.

  2. जनवरी से जून सत्र में होने वाले प्रशिक्षण के लिए आवेदन पत्र पिछले वर्ष के 15 नवंबर तक जमा कराए जाने चाहिए. उम्मीदवार को 1 दिसंबर तक सूचित किया जाएगा और उसकी स्वीकृति 15 दिसंबर तक संस्थान में पहुंच जानी चाहिए.

  3. इसी तरह से जुलाई से दिसंबर सत्र के प्रशिक्षण के लिए आवेदन पत्र 15 मई तक जमा किए जाने चाहिए. उम्मीदवार को 1 जून तक सूचित किया जाएगा और उनकी स्वीकृति संस्थान में 15 जुलाई तक पहुंच जानी चाहिए.

  4. संस्थान प्रति व्यक्ति प्रशिक्षण शुल्क के रूप में 2000 रू. 4 से 8 सप्ताह के अल्पकालीन प्रशिक्षण के लिए और 5000रू. 8 से 24 सप्ताह के दीर्घकालिक प्रशिक्षण के लिए लेगा. इस शुल्क को प्रशिक्षण शुरू होते समय जमा कराया जाता है. शुल्क में संशोधन किया जा सकता है.

  5. छात्रावास में भागीदारी आधार पर आवास उपलब्ध कराने के प्रयास किए जाएंगे जिसके लिए प्रभार उम्मीदवार द्वारा वहन किया जाएगा. तथापि, कमरे उपलब्ध न होने की स्थिति में इन्हें उपलब्ध नहीं कराया जा सकेगा. ऐसी परिस्थिति में सूचना पहले प्रदान की जाएगी.

  6. परिवहन, आकस्मिकता और अन्य व्यय का वहन उम्मीदवारो द्वारा किया जाएगा.

  7. उम्मीदवारों द्वारा हर समय अनुशासन का सख्ती से पालन किया जाएगा अन्यथा अनुशासनिक कार्रवाई की जाएगी और इसके बारे में किसी भी प्रकार की सूचना दिए बिना प्रशिक्षण को किसी भी समय समाप्त किया जा सकता है.

  8. उम्मीदवार को संस्थान की उपर्युक्त और अन्य सेवा शर्तों को स्वीकार करने के बारे में एक घोषण पत्र प्रस्तुत करना होगा

  9. प्रशिक्षण के दौरान किए गए कार्य को संस्थान की संपत्ति मानी जाएगी. इसके लिए प्रवेश के समय निर्धारित प्रपत्र में एक घोषण पत्र देना होगा.

  10. प्रशिक्षण समिति और संस्थान के निदेशक का निर्णय अंतिम होगा और इस संबंध में किसी भी प्रकार के पत्राचार को स्वीकार नहीं किया जाएगा.

अन्य प्रशिक्षण

अन्य प्रकार का प्रशिक्षण जिनका उल्लेख उपर नहीं किया गया है और/अथवा अन्य उद्देश्य के लिए अनुरोध पर व्यवस्था की जा सकती है और इसके लिए आवेदन संस्थान के निदेशक को भेजा जाए. इच्छुक व्यक्ति को विस्तृत जानकारी के लिए संस्थान की वेबसाइट देखनी चाहिए