अक्सर देखा जाने वाले अनुभाग

(यदि आप जो खोज रहे हैं वह आपको नहीं मिल रहा है तो नीचे हमारे सर्च बार का उपयोग करें)
NILC - Nature Int. & Learning Centre

डिसर्टेशन / ग्रीष्मकालीन प्रशिक्षण/शीतकालीन प्रशिक्षण

@ जीबीपीएनआईएचई

  1. विश्वविद्यालयों/संस्थानों में प्राकृतिक और सामाजिक विज्ञान में स्नातकोत्तर अध्ययन कर रहे छात्र जिनके लिए प्रशिक्षण उनके डिग्री कार्यक्रम का एक हिस्सा है वे प्रशिक्षण के लिए आवेदन पत्र जमा कर सकते हैं। प्रशिक्षण के लिए सभी आवेदन पत्र निदेशक, जी.बी. पंत राष्ट्रीय हिमालयी पर्यावरण संस्थान, कोसी-कटारमल, अल्मोड़ा - 263 643, उत्तराखंड को प्राप्त होते हैं ।
  2. संस्थान अनुसंधान एवं विकास के क्षेत्रों में प्रशिक्षण प्रदान करता है जिसका "प्रशिक्षण के क्षेत्रों" खंड में उल्लेख किया गया है
  3. प्रशिक्षण आम तौर पर लघु ;8.12 सप्ताहद्ध और लंबी अवधि ;12.24 सप्ताहद्ध के लिए आयोजित किए जाते हैं और एक कैलेंडर वर्ष में 2 अलग.अलग सत्रों में आयोजित किया जाता हैए प्रथम सत्र जनवरी से जून तक और दूसरा जुलाई से दिसंबर तक। उक्त प्रशिक्षण कार्यक्रम मुख्यालय ;कोसी.कटारमलए अल्मोड़ाद्ध के अलावा क्षेत्रीय इकाइयोंरू श्रीनगर.गढ़वाल ;उत्तराखंडद्धए मोहाल.कुल्लू ;हिण्प्रण्द्धए पांगथांग.सिक्किम और ईटानगर ;अरुणाचल प्रदेशद्धए लेह ;लद्दाखद्ध में भी किया जा सकता है। प्रशिक्षण का आवंटन प्रशिक्षु की विशेषज्ञताए उसकी वरीयता एवं प्रशिक्षणकर्ता की उपलब्धता के आधार पर किया जाता है।

दिशा-निर्देश

  1. उम्मीदवारों को सलाह दी जाती है कि वे संस्थान मुख्यालय और इसके पांच क्षेत्रीय केंद्रों में विषयों / क्षेत्रों और प्लेसमेंट के बारे में विस्तार से जानकारी के लिए संस्थान की वेबसाइट देखें।
  2. पूर्ण रूप से भरे हुए और विभाग के प्रमुख द्वारा विधिवत अग्रेषित किए गए आवेदनों पर ही विचार किया जाएगा; अपूर्ण आवेदन पर प्रशिक्षण हेतु विचार नहीं किया जायेगा।
  3. अधिक संख्या में प्राप्त आवेदनों को देखते हुए चयन योग्यता के आधार पर किया जाता है। शोध प्रबंध/प्रशिक्षण के लिए कुल उपलब्ध सीटों में से 50% जी.बी. पन्त पर्यावरण संस्थान के साथ समझौता ज्ञापन (एमओयू) के तहत विश्वविद्यालयों के उम्मीदवारों के लिए आरक्षित हैं। इन सीटों के लिए भी मेरिट के आधार पर चयन किया जाएगा। इस श्रेणी में रिक्त सीटों को अन्य (सामान्य) उम्मीदवारों द्वारा भरा जाएगा। यदि कोई उम्मीदवार निर्धारित समय के भीतर योगदान नहीं देता है, तो योग्यता के आधार पर तैयार की गई प्रतीक्षा सूची में से वरीयता के क्रम में अभ्यर्थियों को सीट का आवंटन किया जाएगा ।
  4. जनवरी से जून सत्र में शुरू होने वाले प्रशिक्षण के लिए, आवेदन पिछले वर्ष के 15 नवंबर के भीतर जमा किए जाने चाहिए; चयनित उम्मीदवारों को 1 दिसंबर तक सूचित किया जाएगा और उनकी स्वीकृति / सहमति 15 दिसंबर तक संस्थान में लिखित रूप में पत्र अथवा मेल के माध्यम से पहुंच जानी चाहिए।
  5. इसी तरह जुलाई से दिसंबर सत्र में शुरू होने वाले प्रशिक्षण के लिए 15 मई के भीतर आवेदन जमा करना होगा; चयनित उम्मीदवारों को 1 जून तक सूचित किया जाएगा और उनकी स्वीकृति / सहमति 15 जून तक संस्थान में लिखित रूप में पत्र अथवा मेल के माध्यम से पहुंच जानी चाहिए। चयनित व प्रतीक्षारत श्रेणी के अभ्यर्थियों की सूची संस्थान की वेबसाइट पर प्रदर्शित की जाएगी।
  6. संस्थान 2500/- रुपये प्रति माह की दर से प्रशिक्षण शुल्क और 500/- रुपये की एकमुश्त जमानत राशि (अदेयता प्रमाण पत्र के बाद वापसी योग्य) लेगा, इसे प्रशिक्षण शुरू करने से पूर्व जमा करना अनिवार्य होगा।
  7. चयनित अभ्यर्थियों को आवास की व्यवस्था स्वयं करनी होगी।
  8. परिवहन, आकस्मिकता और अन्य खर्च प्रशिक्षुओं/ शोधकर्ताओं द्वारा स्वयं वहन किया जाएगा।
  9. अभ्यर्थी द्वारा प्रति समय पूर्ण अनुशासन व संस्थान द्वारा समय समय पर निर्गत निर्देशों का पालन सुनिश्चित किया जाना अनिवार्य होगा अन्यथा नियमानुसार अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी और बिना कोई कारण बताए किसी भी समय प्रशिक्षण समाप्त किया जा सकता है।
  10. प्रशिक्षण के दौरान किए गए कार्य को संस्थान की संपत्ति के रूप में माना जाएगा जिसके लिए निर्धारित प्रारूप में कार्यभार ग्रहण करते समय एक शपथ पत्र ( अंडरटेकिंग) देना होगा।
  11. प्रशिक्षण समिति और संस्थान के निदेशक का निर्णय अंतिम होगा और इस संबंध में किसी भी स्वरूप में सम्पर्क पर विचार नहीं किया जाएगा।
  12. प्रशिक्षण के अंत में प्रत्येक प्रशिक्षु अभ्यर्थी को निबंध रिपोर्ट की दो प्रतियां सम्बंधित पर्यवेक्षक/दिग्दर्शक को और एक प्रति पुस्तकालय में जमा करनी होगी। इसके अलावा, प्रशिक्षण के अंत में प्रशिक्षु द्वारा अदेयता प्रमाण पत्र भी लिया जाना होगा ।
  13. प्रशिक्षु अभ्यर्थियों को उपर्युक्त और संस्थान के अन्य नियमों और शर्तों की स्वीकृति के संबंध में एक वचन पत्र देना होगा।

चयनित उम्मीदवार और आवेदन पत्र

आवेदन फार्म डाउनलोड करें (अंग्रेजी प्रारूप ) आवेदन फार्म डाउनलोड करें ( हिंदी प्रारूप )